Search This Blog

Sunday, October 4, 2009

उसने आसान किया मेरा मरना

नही, इतनी सी बात पर

क्या उससे लड़ना

जो उसने देखा नही मुझे देख कर भी

जो उसने टाल दी मेरी उपस्थिति

नकार दिया मेरा अस्तित्व

ये उससे नाराज़ होने की नही

उसे धन्यवाद् देने की बात है

की अब वो जी सकेगी मेरे बिना

एक दिन जाना त्तो है छोड़ ये दुनिया

उसने आसान किया मेरा मरना ....///