Search This Blog

Wednesday, June 22, 2011

घरो के वो होंगे मालिक

बहुत सारे  उपकरण 
और हम अब उनके सामने 
संख्या में कम 
उन पर निर्भेर 
वो हमारी मर्जी  से नहीं 
हम उनकी सुविधाओ के अनुसार 
ढालते है खुदको 
बनाते हम है 
और हम ही दास हो जाते है उनके 
एक दिन हम देखेंगे 
खुदको उपकरण की तरह 
और वो करेंगे प्यार 
घरो के वो होंगे मालिक 
और हम उनके उपकरण ......