Search This Blog

Thursday, February 2, 2012

प्यार

रात को मेरे मुह से फूट पड़े
कुछ शब्द
जिसमे उसने न जाने क्या मिलाया
रात भर शब्द जमते रहे
और सुबह
चिड़िया
उन शब्दों को चुग चुग
गाने लगी ...प्यार