Search This Blog

Thursday, June 24, 2010

अबे मैं हाल ???/

ढाणी पधारिया साहेब मेरा
झोंपड़े में बची ना ठौड़
में बिच्छी पगालियाँ जियां रेत  
 आकाश देखे
झाँक झाँक
मोहे  लाज बड़ी आवे भाई आज 
माँ बता तू जद आया हाँ जीसा
म्हारे नाणानें पहली बार
कियां  कियो हो सामनो ?
मैं तो नाट  आई देखो
उतर  आई ढाणी रे  टीले सू
कई बताऊँ राम ??
साहेब हां बठे इज .... जोवता  मारी बाट
में खुसोलियों मारो  माथो टीले री पाल
आगलों अबे  कियां  सुनाऊं.... मैं हाल  ???/